Home Breaking News अमेरिका: ट्रंप ने यूके, आयरलैंड और ब्राजील पर लगे यात्रा प्रतिबंध हटाए,...

अमेरिका: ट्रंप ने यूके, आयरलैंड और ब्राजील पर लगे यात्रा प्रतिबंध हटाए, बाइडन ने लगाई रोक

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, वाशिंगटन
Updated Tue, 19 Jan 2021 09:39 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

अमेरिका में सोमवार को कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 24 मिलियन से ज्यादा हो गई। इसके बावजूद निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक कार्यकारी आदेश जारी किया है। आदेश के अनुसार, ब्रिटेन, ब्राजील, आयरलैंड पर लगे यात्रा प्रतिबंध को हटा दिया जाएगा। ये आदेश 26 जनवरी से प्रभावी हो जाएंगे। इन प्रतिबंधों को महामारी के कारण लगाया था। हालांकि ट्रंप के आदेश के कुछ देर बाद ही निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने कहा कि यात्रा प्रतिबंधों को नहीं हटाया जाएगा। 

ट्रंप द्वारा जारी किए गए कार्यकारी आदेश के अनुसार, मैं डोनाल्ड ट्रंप संविधान द्वारा प्रदत्त शक्तियों और अमेरिका के कानून के अनुसार, शेनगेन जोन में आने वाले 26 यूरोपिय देशों से यात्रा प्रतिबंध हटाता हूं। आदेश में ब्रिटेन, आयरलैंड और ब्राजील जैसे देशों पर लगे प्रतिबंधों को हटाया गया है। इसमें कहा गया है कि ये अब अमेरिका के हितों के लिए हानिकारक नहीं हैं। यह आदेश 26 जनवरी को रात के 12 बजकर एक मिनट से प्रभावी हो जाएगा। हालांकि जो बाइडन की प्रेस सेक्रेटरी ने इसका विरोध किया है।

यह भी पढ़ें- 20 जनवरी को ही क्यों होता है अमेरिकी राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण समारोह

बाइडन की प्रेस सेक्रेटरी जेन साकची ने ट्वीट कर कहा, ‘हमारी मेडिकल टीम की सलाह पर, प्रशासन इन प्रतिबंधों को 26 जनवरी से हटाने का इरादा नहीं रखता है। महामारी से हालात बदतर होते जा रहे हैं और दुनियाभर में संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। ऐसे में यह अंतरराष्ट्रीय यात्रा पर प्रतिबंध हटाने का समय नहीं है। असल में हम कोविड-19 के प्रसार को और कम करने के लिए अंतरराष्ट्रीय यात्रा के आसपास सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों को मजबूत करने की योजना बना रहे हैं।’

बता दें कि ट्रंप बुधवार को अपना पद छोड़ देंगे। वहीं यह आदेश उनके कार्यकाल समाप्त होने के लगभग एक हफ्ते बाद प्रभावी होगा। जिसपर बाइडन प्रशासन ने रोक लगाने का एलान किया है। पिछले हफ्ते, रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के प्रमुख ने सभी हवाई यात्रियों के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका में 26 जनवरी से प्रवेश करने के लिए कोविड-19 की नेगेटिव रिपोर्ट या संक्रमण से रिकवरी का प्रमाण पेश करने की आवश्यकता वाले एक आदेश पर हस्ताक्षर किए थे।

अमेरिका में सोमवार को कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 24 मिलियन से ज्यादा हो गई। इसके बावजूद निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक कार्यकारी आदेश जारी किया है। आदेश के अनुसार, ब्रिटेन, ब्राजील, आयरलैंड पर लगे यात्रा प्रतिबंध को हटा दिया जाएगा। ये आदेश 26 जनवरी से प्रभावी हो जाएंगे। इन प्रतिबंधों को महामारी के कारण लगाया था। हालांकि ट्रंप के आदेश के कुछ देर बाद ही निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने कहा कि यात्रा प्रतिबंधों को नहीं हटाया जाएगा। 

ट्रंप द्वारा जारी किए गए कार्यकारी आदेश के अनुसार, मैं डोनाल्ड ट्रंप संविधान द्वारा प्रदत्त शक्तियों और अमेरिका के कानून के अनुसार, शेनगेन जोन में आने वाले 26 यूरोपिय देशों से यात्रा प्रतिबंध हटाता हूं। आदेश में ब्रिटेन, आयरलैंड और ब्राजील जैसे देशों पर लगे प्रतिबंधों को हटाया गया है। इसमें कहा गया है कि ये अब अमेरिका के हितों के लिए हानिकारक नहीं हैं। यह आदेश 26 जनवरी को रात के 12 बजकर एक मिनट से प्रभावी हो जाएगा। हालांकि जो बाइडन की प्रेस सेक्रेटरी ने इसका विरोध किया है।

यह भी पढ़ें- 20 जनवरी को ही क्यों होता है अमेरिकी राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण समारोह

बाइडन की प्रेस सेक्रेटरी जेन साकची ने ट्वीट कर कहा, ‘हमारी मेडिकल टीम की सलाह पर, प्रशासन इन प्रतिबंधों को 26 जनवरी से हटाने का इरादा नहीं रखता है। महामारी से हालात बदतर होते जा रहे हैं और दुनियाभर में संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। ऐसे में यह अंतरराष्ट्रीय यात्रा पर प्रतिबंध हटाने का समय नहीं है। असल में हम कोविड-19 के प्रसार को और कम करने के लिए अंतरराष्ट्रीय यात्रा के आसपास सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों को मजबूत करने की योजना बना रहे हैं।’

बता दें कि ट्रंप बुधवार को अपना पद छोड़ देंगे। वहीं यह आदेश उनके कार्यकाल समाप्त होने के लगभग एक हफ्ते बाद प्रभावी होगा। जिसपर बाइडन प्रशासन ने रोक लगाने का एलान किया है। पिछले हफ्ते, रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के प्रमुख ने सभी हवाई यात्रियों के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका में 26 जनवरी से प्रवेश करने के लिए कोविड-19 की नेगेटिव रिपोर्ट या संक्रमण से रिकवरी का प्रमाण पेश करने की आवश्यकता वाले एक आदेश पर हस्ताक्षर किए थे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -Load WordPress Sites in as fast as 37ms!

Most Popular

Recent Comments