Home Politics 'टोपी पहनने वालों को ढाई साल का बच्चा समझता है गुंडा'.. योगी...

‘टोपी पहनने वालों को ढाई साल का बच्चा समझता है गुंडा’.. योगी आदित्यनाथ ने कसा एसपी नेताओं पर तंज


हाइलाइट्स:

  • योगी आदित्यनाथ ने एसपी नेताओं पर विधानसभा की कार्यवाही के दौरान कसा तंज
  • योगी आदित्यनाथ बोले, टोपी पहनने वाले व्यक्ति को ढाई साल का बच्चा समझता है गुंडा
  • सीएम ने कहा कि लोग विधायिका को ऐसा न मान लें कि यह कोई ड्रामा कंपनी है

हेमेन्द्र त्रिपाठी, लखनऊ
उत्तर प्रदेश में विधानमंडल के बजट सत्र के दौरान बुधवार को प्रदेश की राज्यपाल आंनन्दीबेन पटेल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान मुख्यमंत्री योगी ने सदन में मौजूद विपक्ष पर जमकर तंज कसा। बुधवार को बजट सत्र के दौरान सदन में विपक्ष के कुछ नेता लाल टोपी पहनकर आए थे। इस पर सीएम योगी ने विपक्ष पर कटाक्ष करते हुए कहा कि सदन में एक नई परिपाटी बन गई है। उन्होंने कहा कि कहीं विधायिका को लोग ऐसा न मान लें कि यह ड्रामा कंपनी है। कोई लाल टोपी, तो कोई नीली टोपी, तो कई पीली टोपी में सदन में दिखने लगा है।

अज्ञेय की पंक्तियां सुनाते हुए एसपी नेताओं पर तंज
बुधवार को सदन में लाल टोपी पहनकर आए एसपी नेताओं पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने तंज कसते हुए अज्ञेय की पंक्तियों का जिक्र किया। उन्होंने सदन में अज्ञेय की ‘सर्प तुम कभी नगर नहीं गए, नहीं सीखा तूने वहां बसना, तो फिर कहां से विष पाया, कहां सीखा डसना।’ कविता का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि ढाई साल का बच्चा टोपी पहने व्यक्ति को गुंडा समझता है। नेता प्रतिपक्ष यदि सदन में पगड़ी या साफा पहनकर आते तो ज्यादा अच्छा लगता होता। विपक्ष के नेताओं को इस प्रकार की चीजों से हमेशा परहेज करना चाहिए।

योगी ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष को इस उम्र में टोपी लगाकर आना बिल्कुल शोभा नहीं देता। इतना ही नहीं, नेता प्रतिपक्ष अपने घर बलिया भी सीधे नहीं जाते हैं, फिर भी नेता प्रतिपक्ष को पता नहीं अयोध्या जाने से क्यों डर लगता है।

ऑक्सीमीटर घोटाले का जिक्र करते हुए दिल्ली सरकार पर साधा निशाना
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से विपक्षियों पर निशाना साधने का सिलसिला यहीं नहीं रुका। एसपी के नेताओं पर तंज कसने के बाद उन्होंने आम आदमी पार्टी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के एक व्यक्ति ने यूपी के किसी जिले में पल्स ऑक्सीमीटर घोटाले का आरोप लगाया था, जिसके बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने आरोपों के चलते पूरे मामले की जांच कराई। इसके साथ ही हमने दिल्ली के भी रेट मंगाए थे। जिससे यह पता चला कि दिल्ली में यूपी से भी महंगे दामों पर ऑक्सीमीटर की खरीद हुई। दिल्ली में इतने महंगे दाम पर खरीद होने के बाद जब उस व्यक्ति से सवाल किया गया तो उस व्यक्ति की जुबान नहीं खुली।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -Load WordPress Sites in as fast as 37ms!

Most Popular

Recent Comments